भारत

म्यांमारकेरोहिंग्यामुसलमानोंपरसियासीतनातनीबढ़तीजारहीहै.इसेलेकरकेंद्रसरकारपरविपक्षीनेताहमलावरहैं.एमआईएमऔरएनसीपीनेइसेलेकरकेंद्रसरकारकोनिशानेपरलियाहै.इनकाकहनाहैकिसरकारइसमामलेमेंधर्मकेआधारपरभेदभावकररहीहै.

एमआईएमअध्यक्षअसदुद्दीनओवैसीनेसरकारपरदोहरारवैयाअपनानेकाआरोपलगायाहै.ओवैसीनेकहाकिसरकाररोहिंग्यामुसलमानोंकेसाथभेदभावकररहीहै.जबतिब्बतीशरणार्थियोंकोभारतमेंजगहदीगईतोरोहिंग्यामुसलमानोंकोक्योंनहीं.ओवैसीनेकहाकिहमवजीरेआजमसेपूछनाचाहतेहैंकिकौनसाकानूनहैकिआपउन्हेंवापसभेजदेंगे.आपसंयुक्तराष्ट्रमेंस्थायीसीटचाहतेहैं,तोक्याआपकामिजाजऐसाहोगा. क्याक्याकहाहैओवैसीनेइसवीडियोमेंदेखाजासकताहै.

वहींएनसीपीनेतानवाबमलिकनेकहाकिसरकारइसेधर्मकेचश्मेसेनादेखे.सरकारकोइसमामलेकोसहीतरीकेसेनिपटानाचाहिए.चाहेमामलेकोर्टमेंएफिडेविटकाहोयासरकारकेअबतककेरुखका,संशयपैदाहोताहै.

बीजेपीनेकियाबचाव

बीजेपीनेइसेलेकरसरकारकाबचावकियाहै.प्रवक्तासुधांशुत्रिवेदीनेकहाकिरोहिंग्याकेमुद्देपरबिनाभेदभावकेनिर्णयहो,कोईअनधिकृतरूपसेभारतआरहेहोंतोउन्हेंरोकाजानाचाहिए.केंद्रकाकदमखुफियाएजेंसियोंकेइनपुटकेआधारपरहै.

बतादेंकिसरकारकोअंदेशाहैकिभारतमेंरहरहेकुछरोहिंग्याआतंकीसंगठनोंसेजुड़ेहोसकतेहैं.सरकारकोअंदेशाहैकिभारतमेंगड़बड़ीकरसकतेहैं.वहींइसमामलेपरसुप्रीमकोर्टमेंसुनवाईहोरहीहै.सोमवारतकसरकारकोकोर्टमेंहलफनामासौंपनाहै.कोर्टनेरोहिंग्याकोदेशसेबाहरकरनेकेसरकारकेफैसलेकापूराखाकामांगाहै.

By Fry