भारत

नईदिल्‍ली,एएनआइ/जेएनएन। राष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघकेसरसंघचालकमोहनभागवत(RSSchiefMohanBhagwat)नेगुरुवारकोकहाकिमौजूदावक्‍तमेंज्ञानवापीकामुद्दाचलरहाहै।ऐसेमुद्दोंकाएकइतिहासहैजिसकोबदलानहींजासकताहै।इसइतिहासकोहमनेनहींबनाया...इसेनातोआजकेहिंदुओंनेबनायानाहीआजकेमुसलमानोंने...यहतबघटाजबभारतमेंइस्लामआक्रांताओंकेसाथआया।उनहमलोंमेंभारतकीस्‍वतंत्रताचाहनेवालोंकामनोबलखंडितकरनेकेलिएदेवस्थानोंकोतोड़ागया...ऐसीघटनाएंहजारोंहैं।

आजकेमुसलमानोंकेपूर्वजभीहिंदूथे

भागवतनेनागपुरमेंतृतीयवर्षसंघशिक्षावर्गशिविरकेसमापनकेअवसरपरसंबोधनमेंकहाकिहिंदूसमाजकीजिनमसलोंपरविशेषश्रद्धाहै..ऐसेकुछमुद्देउठतेहैं।इससेयहनहींसमझाजानाचाहिएकिहिंदूमुसलमानोंकेविरुद्धसोचतेहैं।आजकेमुसलमानोंकेउससमयपूर्वजभीहिंदूथे।उनकोस्‍वतंत्रतासेचिरकालतकवंचितरखनेकेलिए...उनकामनोधैर्यतोड़नेकेलिएदेवस्‍थानोंकोतोड़ागया।इसलिएहिंदूसमाजकोलगताहैकिइनदेवस्‍थानोंकापुनरुद्धारहोनाचाहिए।

हमकोकोईआंदोलननहींकरना

मोहनभागवतनेकहाकिज्ञानवापीकोलेकरमुसलमानोंकाविरोधनहींकियाजारहाहै।हमतोइसमामलेमेंकुछनहींकहरहेहैं।हमनेनौनवंबर(2019)कोकहदियाथाकिएकराममंदिरकामुद्दाथाजिसमेंहमनेअपनीप्रकृतिकेविरुद्धकिसीएतिहासिककारणवशआंदोलनमेंशामिलहुए।हमनेउसकामकोपूराकिया।अबहमकोकोईआंदोलननहींकरनाहै, लेकिनयदिकुछमुद्देमनमेंहैंतोउठतेहैं।यहकिसीकेविरुद्धनहींहै।इसेकिसीकेखिलाफनहींमाननाचाहिए।

अदालतकेफैसलेकोमाननाचाहिए

संघप्रमुख(RSSchiefMohanBhagwat)नेकहाकियहअच्‍छीबातहोगीकिऐसेमसलोंपरमिलबैठकरसहमतिसेकोईरास्‍तानिकाललियाजाए।लेकिन,हरबारऐसारास्‍तानहींनिकलसकताहै।इसीवजहसेलोगअदालतमेंजातेहैं।ऐसेमेंअदालतजोफैसलादेउसकोमाननाचाहिए।अपनीसंविधानसम्‍मतन्‍यायव्‍यवस्‍थाकोपवित्रऔरसर्वश्रेष्‍ठमानकर,उसकेनिर्णयकापालनकरनाचाहिए।हमसबकोअदालतोंकेफैसलोंपरप्रश्‍नचिन्‍हनहींलगानाचाहिए।

हरमस्जिदमेंशिवलिंगक्योंदेखना..?

भागवतनेयहभीनसीहतदीकिरोजइसतरहकामामलासामनेनहींलानानहींचाहिए।हमेंझगड़ाक्‍योंबढ़ाना...हरमस्जिदमेंशिवलिंगक्योंदेखना?भलेहीबाहरसेआईहैलेकिनवह(इस्‍लाम)भीएकपूजापद्धतिहै।हमइसकासम्‍मानकरतेहैंलेकिनजिन्‍होंनेवहपूजापद्धति(इस्‍लाम)अपनाईहै,वे(मुस्लिम)बाहरसेसंबद्धनहींरखतेहैं।यहउनकोभीसमझनाचाहिए।भलेहीउनकी(मुस्लिमोंकी)पूजाउधर(बाहर)कीहैलेकिनवेहमारेराजाओं,ऋषिमुनियोंकेहीवंशजहैं।

हमेंजीतनानहीं,सबकोजोड़नाहै

भागवतनेकहाकिभारतमाताकीजयबोलनेकेलिएहमेंकिसीकोजीतनानहींहै,बल्किसबकोजोड़नाहै।भारतप्राचीनकालसेहीसबकोजोड़नेकेलिएकामकरतारहाहै।उन्होंनेकहाकिबिनाशक्तिकेकुछनहींहोताहै।हमकिसीकोजीतनानहींचाहते,लेकिनकुछदुष्टलोगहमकोजीतनाचाहतेहैं।इसलिएहमेंशक्तिकीउपासनाकरनीहोगी।भागवतशुक्रवारकोआरएसएसकेनागपुरमेंपिछले25दिनोंसेचलरहेतृतीयवर्षकेसंघशिक्षावर्गकेसमापनसमारोहमेंसंबोधितकररहेथे।

यूक्रेनमामलेमेंभारतनेसंतुलितनीतिअपनाई

संघप्रमुखनेअपनेसंबोधनमेंयूक्रेनयुद्धकीचर्चाकरतेहुएकहाकिभारतसत्यबोलरहाहैऔरसंतुलितनीतिअपनारहाहै।यदिभारतशक्तिशालीहोतातोयुद्धरोकसकताथा।हमशक्तिशालीबननेकीओरअग्रसरहैं।उन्होंनेसवालउठायाकिचीनक्योंनहींइसयुद्धकोरोकरहाहै।उन्होंनेचिंताजाहिरकरतेहुएकहाकिइसयुद्धनेसुरक्षाऔरआर्थिकचुनौतियांबढ़ादीहै।

By Fraser