कांग्रेस

जासं,बैरिया(बलिया):राष्ट्रीयसेवायोजनासेयुवाओंकेव्यक्तित्वकाविकासहोताहै,इसलिएयुवावर्गकोअनिवार्यरूपसेएनएसएसकास्वयंसेवकबननाचाहिए।येबातेंमंगलवारकोद्वाबासंस्कृतप्रचारसमितिमहाविद्यालयबैरियाकेप्राचार्यडा.अरविदकुमाररायनेकहीं।

वहटेंगरहीकेरामाबाबास्थानकेनिकटअवस्थितराजमुनीरामपूजनसंस्कृतउच्चतरमाध्यमिकविद्यालयबैरियाकेपरिसरमेंआयोजितसातदिवसीयराष्ट्रीयसेवायोजनाशिविरकेउद्घाटनकेबादछात्र-छात्राओं,स्वयंसेवकोंवक्षेत्रकेगणमान्यलोगोंकोसंबोधितकररहेथे।उन्होंनेयुवाओंसेअपनीऊर्जानिर्माणवरचनामेंलगानेकाआह्वानकिया।कहाकिबदलेपरिवेशमेंअगरहमअपनेकोनहींबदलेंगेतोइसविकासकीदौड़मेंपिछड़जाएंगे,इसलिएलोगोंकेसाथसामंजस्यस्थापितकरनेकेसाथहीअपनेविकासकेलिएजरूरीउपायकरनाचाहिए।उन्होंनेस्पष्टकियाकिएनएसएससेसामाजिकज्ञानबढ़ताहै,दायित्वबोधकेप्रतिहमजागरूकहोतेहैं,स्वच्छतादेशकेनवनिर्माणकेसाथ-साथसामाजिकबुराइयोंकोदूरकरनेकीप्रेरणाइसशिविरसेमिलतीहै।

इससेपूर्वमांसरस्वतीकेचित्रकेसामनेदीपप्रज्ज्वलितकरकार्यक्रमकाशुभारंभकियागया।शिक्षकमृत्युंजयउपाध्याय,शिवेनपांडेय,अजयसिंह,धर्मेद्रसिंह,मनीशकुमार,विद्यासिंह,जयप्रकाशसिंह,भगवानयादव,वशिष्ठकुशवाहा,मिथिलेशसिंह,चंदनरायआदिनेविचाररखे।कार्यक्रमअधिकारीरूपाकेशरीनेआगंतुकोंकोस्वागतकिया।वहींशिक्षकमृत्युंजयउपाध्यायनेसंचालनकिया।

By Gibbs