सिंह

नीरजपराशर,चिंतपूर्णी

धार्मिकस्थलचितपूर्णीमंदिरकेन्यासकोआयकामुख्यस्रोतभेंटपात्रहीहैंलेकिनअबऑनलाइनडोनेशनसेन्यासकेचढ़ावेमेंबढ़ोतरीदर्जहोरहीहै।मार्चऔरअप्रैलमेंहीनकदचढ़ावेऑनलाइनडोनेशनकेभीसारेरिकार्डटूटेहैं।मात्रदोमहीनेमेंऑनलाइनचढ़ावासाठलाखरुपयेसेज्यादारहाहै,जोमंदिरन्यासद्वाराऑनलाइनप्रणालीशुरूकरनेकेबादअबतककासबसेअधिकचढ़ावाहै।मार्चमेंश्रद्धालुओंद्वारा44,67,251रुपयेऔरअप्रैलमें16,25,265रुपयेजमाकरवाएगए।यानीइनदोमहीनोंमेंमंदिरन्यासको60,92,516रुपयेकीधनराशिऑनलाइनहीप्राप्तहुई।जबकिसाल2017व2018मेंमन्दिरन्यासकोइन्हींमहीनोंमेंपांचलाखसेऊपरकभीभीऑनलाइनचढ़ावाप्राप्तनहींहुआथा।पहलीबारमंदिरन्यासकोऑनलाइनट्रस्टकेखातेमेंइतनाज्यादाचढ़ावाप्राप्तहुआहै।

इसकेअलावामंदिरट्रस्टकोदानपात्रोंसेवअन्यस्रोतोंसेप्राप्तहुआनकदचढ़ावाभीमार्चअप्रैलमेंबढ़ाहै।मार्चऔरअप्रैल2017मेंन्यासकोकुलसभीस्रोतोंसेप्राप्तनकदचढ़ावा4करोड़95लाख63हजार705रुपयेप्राप्तहुआथा,वहींमार्चवअप्रैल2018मेंदोमहीनेकानकदचढ़ावा5करोड31लाखरुपयेप्राप्तहुआथाजबकिइससालमार्चऔरअप्रैलदोमहीनेमेंमंदिरट्रस्टको5करोड78लाख30,335रुपयेप्राप्तहुआहै,जिसमें60लाखरुपयेऑनलाइनचढ़ावाहीप्राप्तहै।मार्चऔरअप्रैलमेंश्रद्धालुओंद्वारामंदिरमेंखूबधनवर्षाकीगइ्रहै।

श्रदालुओंकीमातारानीकेप्रतिअपारआस्थावश्रद्धाहै।श्रदालुमांकेदरबारमेंनकदी,सोनावचांदीअर्पितकरतेहैं।इसबारइनदोमहीनेमेंमंदिरकाऑनलाइनचढ़ावाकाफीज्यादाबढ़ाहै।

-राकेशकुमारप्रजापति,मंदिरआयुक्तएवंडीसीऊना।

By Fuller