सिंह

नयीदिल्ली,16जुलाईभाषाबिहारमेंशराबबंदीकेकईसकारात्मकपरिणामदेखनेकोमिलेहैंलेकिनइससेराज्यमेंतपेदिककीनैदानिकटीबीजांचमेंअड़चनआरहीहै।स्वास्थ्यविभागकेएकवरिष्ठअधिकारीनेबतायाकिबिहारमेंपिछलेसालशराबकोप्रतिबंधितकियेजानेकेबादसेतपेदिककेनिर्धारणसंबंधीजांचकठिनकार्यहोगयाहै।इसकासंग्यानलेतेहुएकेंद्रीयस्वास्थ्यमंत्रालयनेबाधारहितनैदानिकसेवाओंकेलिएअल्कोहलकीखरीदऔरइस्तेमालपरविशेषछूटदेनेकीमांगकरतेहुएबिहारकेस्वास्थ्यविभागकोलिखाहै।मंत्रालयमेंस्वास्थ्यसेवाओंकेमहानिदेशकजगदीशप्रसादकेमुताबिकइसतरहकीजांचमेंप्रयुक्तएथिलअल्कोहलकीकिल्लतहोगयीहै।यहांतककिसरकारीसंस्थाओंमेंभीइसकीकिल्लतहै।बिहारकेस्वास्थ्यविभागकेप्रधानसचिवकोलिखेअपनेपत्रमेंप्रसादनेकहाकितपेदिककोसफलतरीकेसेठीककरनेकेलिएसमयपररोगकापतालगनाऔरउसकाउचितउपचारआवश्यकहोताहै।इसकीनैदानिकजांचप्राथमिकतौरपरस्मीयरमाइक््रुास्कोपीकेजरियेकईस्तरोंपरहोतीहै।स्मीयरमाइक््रुोस्कोपीकेलिएआवश्यकअभिकर्मकोंजिलनीलसनऔरफ्लूरिसकेंटस्टेनिंगदोनोंमेंशुद्धअल्कोहलहोताहै।इसपूरीप्रक््िरुयामेंशराबकीऔरभीकईतरहकीआवश्यकताएंपड़तीहैं।भाषा

By Gardner