विद्यालय

संवादसहयोगी,होशियारपुर:शिक्षाविभागनेराजकीयविद्यालयोंमेंपेरेंटसटीचर्समीटकाआयोजनकिया।स्कूलोंमेंशिक्षकोंकेसाथमाता-पिताकासंवादभीहुआ।बच्चोंकीपढ़ाई,व्यवहारवकमियोंकोलेकरभीचर्चाहुई।माता-पिताकेसाथहीबच्चेऔरशिक्षकबेहदउत्साहितनजरआए।इसीदौरानजिलाशिक्षाअधिकारीगुरशरणसिंह,उपजिलाशिक्षाअधिकारीराकेशकुमारनेविभिन्नस्कूलोंमेंविजिटकरअध्यापकोंऔरअभिभावकोंकोमोटिवेटकिया।सरकारीमिडिलस्कूलमिर्जापुरमेंजिलाशिक्षाअधिकारीगुरशरणसिंहऔरउपजिलाशिक्षाअधिकारीराकेशकुमारकीउपस्थितिमेंबैठककेदौरानअभिभावकोंनेशिक्षकोंसेपूछाकिबच्चापढ़ाईमेंकैसाहै,किसविषयमेंअच्छाहै,किसमेंकमजोरसमेतविभिन्नबिदुओंपरसवालकिए।शिक्षकोंनेविद्यार्थियोंकीघरपरपढ़ाईकीजानकारीली।टेस्टमेंआनेवालेनंबरोंकेबारेमेंजाना।अभिभावकोंसेस्कूलोंमेंविकासकोलेकरभीचर्चाकी।शिक्षकोंनेअच्छेसुझावोंकोनोटकिया।

हरबच्चेकोसंस्कारीबनानेकाप्रयासकरें:डीईओ

उपजिलाशिक्षाअधिकारीराकेशकुमारनेकहा,बच्चोंकोजीवनकेउद्देश्योंकेप्रतिजागरूकहोनाचाहिए।शिक्षणसंस्थानोंमेंक्लासमानिटरबनानेकेसाथउन्हेंजोजिम्मेदारियांसौंपीजातीहैउसकाकारणजिम्मेदारीबोधकरानाहै।यहीकारणहैकिविभिन्नसदनोंकेमाध्यमसेबच्चोंकोकईप्रभारसौंपेजातेहैं।हमसभीशिक्षकोंकाकर्तव्यबनताहैकिविद्यालयकेहरबच्चेकोसंस्कारीबनानेकाप्रयासकरेंताकिवहदेशवसमाजकाजिम्मेदारनागरिकबनसके।इसअवसरपरअमरीकसिंहजिलाकोआर्डीनेटर,रविद्रपालसिंह,परमजीतकौर,गुरमेलसिंह,रजनीशकुमारगुलियानीऔरदलबीरसिंहउपस्थितथे।

By Fraser